Blog का SEO कैसे करें , SEO कैसे काम करता है ?

शेयर करें

SEO क्या है ? | blog का SEO कैसे करें | SEO (Search Engine Optimization) कैसे काम करता है

SEO क्या है? blog का SEO कैसे करें ? और SEO कैसे करता हैं? यह हर नया ब्लॉगर सीखना चाहता है| किसी भी blog वेबसाइट को google के search result में top पर रैंक कराने के लिए SEO कितना जरुरी है यह जानना हर ब्लॉगर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है| ब्लॉगिंग में आपकी सफलता का निर्धारण काफी हद तक इसी बात से होती है कि आप अपने content का SEO किस प्रकार करते हैं |

SEO ब्लॉगिंग का backbone है | सिर्फ अच्छी आर्टिकल लिख लेने भर से ब्लॉगिंग में सफलता नहीं मिलती है | SEO technique को use करके ही आप अपने blog पोस्ट को रैंक करवा सकते हैं | बिना सही SEO के पोस्ट को रैंक करवाना बहुत मुश्किल है | visitors भी उसी साईट पर ज्यादा trust करते हैं जो first पेज पर रैंक करते हैं | इसलिए ब्लॉगिंग में SEO एक महत्वपूर्ण फैक्टर है |

आज इस लेख में आप यह जानेंगे कि SEO क्या है और SEO कैसे करते हैं ? दोस्तों इस post को अंत तक जरुर पढ़ें | इसमें आपको SEO से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी एवं इसको पढ़ने के बाद आप SEO में महारत हासिल कर लेंगे |

इस पोस्ट में क्या क्या सीखने वालें है-

  • SEO क्या है ?
  • SEO क्यों important है ?
  • SEO कितना प्रकार का होता है ?
  • On page SEO क्या होता है ?
  • Off page SEO क्या होता है ?
  • On page SEO और Off page SEO में क्या अंतर है ?
  • SEO के लिए महत्वपूर्ण wordpress plugins –
  • Yoast SEO और Rank Math में क्या अन्तर है ?
  • SEO के Top-10 फायदे –

SEO क्या है ?

SEO एक ऐसा तरीका है जिससे आप अपने blog content को optimization करके google के search engine में first page पर रैंक करा सकते हैं |

सरल शब्दों में कहें तो SEO एक ऐसा term है जिसका उपयोग google के search result में top पर रैंक करने के लिए एवं अधिक visibility के लिए आपके द्वारा किये गए technical एवं google algorithm के अनुसार content crafting के कार्य को दर्शाता है |

SEO का पूर्ण रूप (full form) search engine optimization होता है | SEO (search engine optimization) एक ऐसा प्रोसेस है जिसकी मदद से किसी भी वेबसाइट या वेब पेज की traffic को सुधार किया जा सकता है |

SEO के द्वारा आप वेबसाइट पर organic traffic ला सकते हैं | एक इन्टरनेट marketing स्ट्रेटेजी के तौर पर SEO search engines किस तरह से काम करता है इस चीज पर ध्यान देता है | किसी भी content का SEO इसलिए किया जाता है ताकि वेबसाइट को अधिक से अधिक traffic मिल सके जब वेबसाइट search engine results पेज में top पर रैंक करें |

Blog का SEO कैसे करें

लोग पैसा के लालच में blog शुरू कर लेते हैं और साईट में कुछ content डालने के बाद शिकायत करने लगते हैं कि साईट में traffic नहीं आ रहा है | तो उन सभी लोगों को बताना चाहता हूँ कि सिर्फ ब्लॉगिंग वेबसाइट बनाना और उसमे  content पोस्ट करना काफी नहीं होता है | वेबसाइट पर traffic लाने और traffic maintain रखने के लिए आपका साईट google के search engine result के top पेज पर रैंक करना जरुरी होता है |

यहीं पर ज्यादतर blogger अटक जाते हैं क्योंकि इन्टरनेट user के attention को capture करना इतना आसान नहीं है | search engine रिजल्ट पेज पर top स्थान पाने के लिए दुसरे वेबसाइट से compete करना पड़ता है जहाँ SEO की जरुरत पड़ती है | ऐसे बहुत से अलग-अलग तरीके हैं जिससे onpage SEO को बेहतर किया जा सकता है और ऑनलाइन content में शामिल किया जा सकता है |

SEO क्यों important है ?

अब सवाल यह है कि कोई भी इन्टरनेट user कैसे अपने जरुरत के content तक पहुँचता है ?

मतलब कैसे एक आदमी google पर keyword type करके अपने required content को खोज लेता है |

यहीं पर SEO (search engine optimization) का असल काम चालू होता है | SEO ही एक key फैक्टर है जो आपकी वेबसाइट की visibility को maintain रखता है | इसलिए SEO फ्रेंडली content लिखना बहुत जरुरी होता है ताकि आपका वेबसाइट google के search result में top पर आ सके | अगर आप जानना चाहते हैं कि SEO फ्रेंडली content कैसे लिखा जाता है तो हमारा ब्लॉग पोस्ट SEO friendly article कैसे लिखें को पढ़ें|

एक सर्वे के अनुसार 93 % ऑनलाइन experiences, search engines से शुरू होता है | इसलिए अधिक से अधिक लोग google search engine पर जाकर keyword टाइप करते हैं ताकि उनको अपने queries का जवाब मिल सके |

search अभी भी किसी content साइट्स के लिए traffic की बहुत बड़ी source है | Google, search engine का 65 से 75 % तक का market शेयर own करता है इसलिए आपका फोकस इसी बात पर होना चाहिए कि google के search engine पर top में कैसे रैंक करें | 75 % से भी ज्यादा users पहले पेज से आगे scroll नहीं करते हैं | इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप चाहते हैं कि आपके वेबसाइट में traffic आए तो first पेज पर रैंक करना बहुत जरुरी हो जाता है | इसी जगह पर SEO की जरुरत पड़ती है | क्योंकि बिना SEO के रैंक करना मुश्किल है |

इसके साथ ही सही keyword पर content लिखना भी उतना ही महत्वपूर्ण होता है | इसके लिए आपको पहले keyword research करने की जरुरत है | content उन्ही टॉपिक्स पर लिखें जिसका search volume अधिक है | जिसके बारे में लोग search करते हैं एवं पढ़ना चाहते हैं | ताकि उस keyword को SEO के जरिए रैंक कराया जा सके |

keyword क्या होता है ? और keyword research कैसे करते है के बारे जानना है तो हमारा ब्लॉग में जा के इसके बारे में पढ़ सकते है |

जब आप google पर कोई keyword टाइप करते हैं तो search engine का काम आपको अधिक से अधिक relevant content दिखाने का होता है; इसका अर्थ है Google आपको वो सभी web content दिखायेगा जिसमे आपके द्वारा type किया गया keyword शामिल हो | यही कारण है कि Google अपने results को searched keyword से relevancy के क्रम में arrange करता है। सरल शब्दों में कहें तो google आपको वैसे ही result दिखायेगा जैसा keyword आप search करते हैं | जैसे की नीचे एक screenshot में दिखाया गया है –

Blog का SEO कैसे करें

अगर आप चाहते हैं कि आपका वेबसाइट first पेज पर रैंक करे तो आपको ऐसा content create करना होगा जो search engine algorithms को follow करता है इसके लिए आपको google के algorithms को convince करना होगा कि आपका keyword searched टॉपिक से ही रिलेटेड है | कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि google के rules follow कर के (SEO करके) ही आपका वेबसाइट search result में top पेज पर रैंक करेगा |

SEO कितना प्रकार का होता है ?

SEO मुख्यत: दो प्रकार का होता है |

  1. On page SEO
  2. Off-page SEO |

इसमे एक का काम ब्लॉग के अंदर कुछ बेसिक change करने होता है तो दूसरा का काम ब्लॉग वेबसाईट को प्रमोट करने का होता है | इन दोनों ही SEO के प्रकार के बारे मे detail मे जानेंगे |

1. On page SEO क्या होता है ?

On page SEO में simply blog content को optimize किया जाता है | इसका मतलब यह हुआ कि blog content में internal बदलाव किया जाता है | इसमें on page elements जैसे text एवं image को optimize किया जाता है |

basically इसमें blog content पर काम होता है जिससे वेबसाइट google में रैंक कर सके | यह आपके वेबसाइट के लिए bricks एवं mortar की तरह काम करता है जो वेबसाइट को मजबूती प्रदान करता है |

Google के कुछ algorithm होते हैं जिनको fulfil करना बहुत जरुरी होता है तभी आपका वेबसाइट रैंक करेगा |

इसी algorithm जरुरत को पूरा करने के लिए SEO का सहारा लिया जाता है |

इसके लिए वेबसाइट के लिए सही template का प्रयोग करना होता है | सही keyword का प्रयोग करना होता है जिसका search volume अधिक हो | SEO फ्रेंडली content लिखने की जरुरत होती है |

आर्टिकल के अंदर keyword प्लेसमेंट सही जगह करना बहुत महत्वपूर्ण होता है | आपका keyword आर्टिकल के title, meta description, आर्टिकल के बीच में और अंत में जरुर होना चाहिए | क्योंकि भले ही google बहुत advanced और intelligent है पर content को उस तरह से interpret नहीं कर पाता है जैसे हम लोग करते हैं |

इसलिए search engine को यह interpret करने के लिए हमारी सहयोग की जरुरत पड़ती है कि आखिर content किस विषय के बारे में है | इसलिए image file name, alt text एवं description इत्यादी को optimize करना पड़ता है|

ऐसा करने से google समझ जाता है कि content किस टॉपिक के ऊपर है और वह वेबसाइट को search result के top पेज में रैंक करने में मदद करती है |

2. Off page SEO क्या होता है ?

Off page SEO का मतलब वेबसाईट को promote करने से है | बिना Off page SEO के आप search engine optimization मे सफल नहीं हो सकते हैं |

इसमे ब्लॉग कंटेन्ट के अंदर किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया जाता है बल्कि इसमे ब्लॉग promotion के लिए external strategies का उपयोग किया जाता है | 

यह ऐसा method है जिसमे बाहर से content  के लिए value लाने पर फोकस किया जाता है |

Off page SEO करने के लिए विभिन्न प्रकार के strategies का इस्तेमाल किया जाता है ताकि वेबसाईट visibility बढ़े और साइट मे अधिक से अधिक ट्राफिक आए | promote करने के इन तरीकों को backlinking कहते है| Off page SEO के लिए backlinking बहुत ही पावरफूल method है |

जैसे – उसी niche से संबंधित दूसरे ब्लॉग पर कमेन्ट करना और कमेन्ट बॉक्स मे लिंक शेयर करना | सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म मे वेबसाईट के बारे मे इनफार्मेशन देना और उसमे लिंक पोस्ट करना |

Blog का On Page SEO कैसे करें

नीचे आप on page SEO technique एवं तरीकों के बारे में जानेंगे और यह भी सीखेंगे कि किस प्रकार content को optimize करके आप अपने साईट का बेहतर तरीके से on page SEO कर सकते हैं|

1. Website Speed –

इस भाग में आप सीखेंगे कि कैसे वेबसाइट की speed को बढाया जा सकता है और उस speed को कैसे maintain रखा जा सकता है |

वेबसाइट की loading स्पीड बहुत महत्वपूर्ण होती है | अगर आपका वेबसाइट 4 से 5 सेकंड के अंदर खुल जाता है तो इसे एक अच्छा loading स्पीड माना जा सकता है | पर अगर साईट loading में इससे अधिक समय लेता है तो visitors के ऊपर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और वो आपके साईट के बजाय किसी अन्य साईट ,में चले जायेंगे |

इस समस्या का समाधान on page SEO द्वारा किया जा सकता है | नीचे कुछ on page SEO technique दिए गए हैं | अगर आप इनका इस्तेमाल करते हैं तो आपकी वेबसाइट की स्पीड बढ़ सकती है |

  1. एक light एवं आकर्षक theme का प्रयोग करें |
  2. WordPress fastest cache plugin का इस्तेमाल करें |
  3. Compressed image का प्रयोग करें |
  4. Image को JPEG या PNG में ही सेव करें
  5. Image का साइज़ 1280*720 से अधिक ना रखें
  6. ज्यादा plugins का प्रयोग ना करें |

2. Title tag –

अपनी वेबसाइट में title tag को आकर्षक बनाने का प्रयास करें ताकि visitors खुद को उस title पर click करने से खुद को ना रोक सके | Title tag में keyword का इस्तेमाल जरुर करें |  आपके पोस्ट में एक H1 tag होना चाहिए वही उस पोस्ट का heading होगा | अपने आर्टिकल में heading के साथ साथ sub heading का भी प्रयोग करें | title tag को कभी भी नजरअंदाज ना करें | यह on page SEO के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण है |

3. URL का structure सही रखें –

कोशिश करें कि आपके वेबसाइट का URL छोटा हो | यह जितना छोटा होगा उतना ही अच्छा रहेगा | URL में keyword को जरुर include करें | URL में नंबर या फिर किसी प्रकार के चिन्ह का उपयोग ना करें |  

4. Internal link –

Internal link आपको अपने किसी भी web page को better रैंक करने में मदद करती है | अगर आपके वेबसाइट की सारी पोस्ट एक दुसरे से लिंक्ड रहेगी तो google के पास भी यह message जाता है कि सारी linked-to post महत्वपूर्ण है और google आपके वेबसाइट को रैंक करने लगता है |

5. वेबसाइट की navigation –

वेबसाइट में navigation की सुविधा होनी चाहिए ताकि readers को एक पेज से दुसरे पेज या फिर एक पोस्ट से दुसरे पोस्ट में जाने में आसानी हो| Navigation की कुछ टिप्स –

  1. सही hypertext बनायें
  2. Sidebar को अलग रखें
  3. सही navigation प्लेसमेंट जरुरी है | जैसे – header navigation bar, sidebar, footer etc
  4. mobile responsive navigation होना चाहिए |

6. Content

Google में बेहतर रैंकिंग पाने के लिए SEO बहुत महत्वपूर्ण है | पर इसके साथ ही यह भी उतना ही जरुरी है कि best content लिखा जाय | क्योंकि content ही king होता है | पोस्ट के अंदर उन सभी बिंदूओं को शामिल करें जिनके बारे में readers पढ़ना चाहते हैं | अन्यथा SEO की काम नहीं आएगा | आर्टिकल को कम से कम 1000 शब्दों में लिखने का प्रयास करें |

7. Keyword –

जब आप कोई आर्टिकल लिखते हैं तो लिखने से पहले keyword research जरुर करें ताकि आपको पता चल सके कि आप जिस niche में content लिखना चाहते हैं उससे related कौन- कौन से keywords को लोग search कर रहे हैं |

8. Content के लिए बेहतरीन title एवं description लिखें |

किसी भी पोस्ट को रैंक करवाने के लिए एक अच्छी SEO title एवं description बहुत जरुरी होता है |अगर  आपका title एवं description सही नहीं होगा तो आप कितना भी अच्छा content लिख लो लोग आपके वेबसाइट में नहीं आयेंगे|

9. Alt tag का प्रयोग करना |

Google के search result में रैंक करने के लिए content के अंदर image का इस्तेमाल करना बहुत crucial होता है | image को हमेशा compressed करके use करें और उसमे alt tag जरुर डालें |

Blog का Off page seo कैसे करें

On page SEO की ही तरह off page SEO भी उतना ही important है | नीचे आपको कुछ टिप्स देने वाला हूँ जिसको implement करने से आप अपने साईट की बेहतर off page SEO कर सकते हैं |

1. Guest post –

Off page SEO के लिए guest पोस्ट काफी पोपुलर technique है | इसमें आप अपने niche से related अन्य वेबसाइट पर content पोस्ट कर सकते हैं ताकि लोग आपके content के through आपके वेबसाइट भी जाने और साथ में अच्छी एवं quality backlink मिल सके|

2. Blog commenting –

Blog commenting के द्वारा भी आप अपने वेबसाइट का off page SEO कर सकते हैं |

3. Social media में profile बनायें –

आप अपने blog साईट से related page या profile सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर create करें और उनमे आप अपने साईट का लिंक शेयर कर सकते हैं |

जैसे – facebook, twitter, Instagram etc.

4. Forum एवं Q&A site –

Q&A forum में आप अपने वेबसाइट को promote कर सकते हैं | वहां पर किसी सवाल का जवाब दे सकते हैं या फिर कोई सवाल पूछ सकते हैं | इस प्रकार Q&A forum में एक्टिव रह कर आप अपने वेबसाइट के लिए अधिक exposure gain कर सकते हैं |

On page SEO और Off page SEO में क्या अंतर है ?

  • On page SEO में वेबसाइट को optimize किया जाता है | अर्थात वेबसाइट एवं blogs के content में google algorithm के अनुसार कुछ basic changes किया जाता है |
  • इसमें ऐसे SEO स्ट्रेटेजीज involve रहता है जिसके द्वारा direct content में बदलाव किया जाता है |
  • इसका objective बेहतर online presence build करना है | on page SEO वेबसाइट के बेहतर परफॉरमेंस के लिए बहुत ही effective tool है |
  • On page SEO का मतलब एक ऐसा वेबसाइट build करना है जो users को appeal करता हो |
  • On page SEO के प्रमुख features – page speed, content quality, title, tags etc.
  • Off page SEO में ऐसे SEO factors एवं strategies पर फोकस किया जाता है जिसके द्वारा वेबसाइट या ब्रांड का promotion हो |
  • इसमें external तरीकों से वेबसाइट की visibility को बढ़ाने के ऊपर फोकस किया जाता है | जैसे – social media platform में किसी साईट को promote करना off page SEO का एक रूप है|
  • इसका objective भी साईट की ऑनलाइन presence को बढ़ाना है परन्तु On page SEO से कम effective है |
  • Off page SEO का मतलब वेबसाइट के लिए अधिक exposure पाना होता है |

Word Press SEO Plugins

SEO plugins ऐसे tools हैं जो websites और blogs की features को enhance करती है |यह users को विभिन्न options एवं functions की सुविधा देता है ताकि users अपने साईट के web page को customize कर सके | इन SEO plugins की मदद से किसी भी content को google के top search engine result पेज में आसानी से रैंक करवाया जा सकता है |

इस post में आप दो प्रमुख SEO plugins के बारे में जानेंगे –

Yoast SEO –

Yoast SEO एक wordpress plugin है जो आपके वेबसाइट को google के search engine result पेज में बेहतर रैंक करने के लिए सहायता करता है | Yoast SEO plugin आपको ऐसी free tools देता है जिसकी मदद से आप अपने content को बेहतर SEO standard तक ले जा सकते हैं |

Rank Math –

Rank Math wordpress वेबसाइट के लिए उपयोग किया जाने वाला एक SEO (search engine optimization) plugin है | इस plugin की मदद से कोई भी अपने blog content को आसानी से optimize कर सकता है |

Yoast SEO VS Rank Math

Rank MathYoast SEO
Rank Math काफी सस्ता है | यह थोड़ा महंगा है |
Rank math की अधिकतर features free में available है Yoast SEO की advanced features use करने के लिए paid version लेना होगा |
Rank math के free version में पांच focus keywords जोड़ सकते हैं Yoast SEO के free version में केवल एक focus keywords को जोड़ सकते हैं |
Rank Math में दो setup wizard की सुविधा मिलती है | Yoast SEO में केवल एक ही installation wizard की सुविधा मिलती है |

SEO के 10 फायदे

  1. यहाँ आपको SEO के top-10 फायदे बताने वाला हूँ जिसकी सूची इस प्रकार है –
  2. यह आपके पैसे को बचाता है |
  3. इससे आपके वेबसाइट को better ROI score मिलता है |
  4. आपके वेबसाइट के navigation आसान बनाता है |
  5. वेबसाइट में ज्यादा traffic drive करता है |
  6. इससे साईट को अधिक credibility और trust मिलता है |
  7. यह आपको update रखता है |
  8. इससे आपको अधिक इन्टरनेट exposure मिलता है |
  9. साईट में अधिक क्लिक मिलता है |
  10. आपको साईट का सारा डाटा मिल जाता है

इस article में आपने सिखा

उम्मीद करता हूँ आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा | इसमें SEO से related सभी बिन्दूओ को कवर करने का प्रयास किया गया है मसलन – SEO क्या है ?, अपने blog का SEO कैसे करें और Search Engine Optimization कैसे काम करता है अत्यादी | उम्मीद करता हूँ इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपकी SEO को लेकर जानकारी और भी मजबूत हो जाएगी और आप अपने वेबसाइट का on page एवं off page SEO दोनों ही बेहतर ढंग से कर पाएंगे |


शेयर करें

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम नागेन्द्र टुडू है, मैं एक Full Time Blogger हूँ। इस ब्लॉग का owner हूँ और ,इस ब्लॉग पे Online पैसे कामने के बारे में जानकारी देता हूँ।

2 thoughts on “Blog का SEO कैसे करें , SEO कैसे काम करता है ?”

  1. Thanks for the valuable insights in your blog 1 thought on “Blog का SEO कैसे करें , SEO कैसे काम करता है ?”Your expertise is a game-changer for us. Looking forward to more impactful tips! it is really helpful in my SEO project https://digih ubgroup.com.

    Reply

Leave a comment